क्रिप्टो करेंसी ट्रेडिंग कैसे करें ??

cryptocurrency in hindi

क्रिप्‍टो करेंसी में ट्रेडिंग के बारे में हम लगातार सुनते रहते हैं और यहां वहां से अपुष्‍ट सूचनाएं मिलती रहती हैं, लेकिन स्‍पष्‍ट नहीं हो पाता कि किस प्रकार क्रिप्‍टो करेंसी में ट्रेड किया जाए। पेशे से इंजीनियर राजेश भट्ट ने सोशल मीडिया के मित्रों के लिए दो पोस्‍ट लिखकर क्रिप्‍टो करेंसी ट्रेडिंग की दुनिया में प्रवेश का आसान रास्‍ता बताया है, यहां उन दोनों पोस्‍ट को क्‍लब कर एक पोस्‍ट बनाई गई है। संभवत: यह आपके लिए उपयोगी हो। पाठक को यह ध्‍यान रखना चाहिए कि यह क्रिप्‍टो करेंसी ट्रेडिंग को समझाने के लिए लिखी गई पोस्‍ट है न कि ट्रेडिंग के क्षेत्र में कार्य करने के लिए, ऐसे में अपनी समझ और सावधानी के बाद ही इस क्षेत्र के संबंध में कोई निर्णय करे (सं.)


सबसे पहले तो दिमाग से ये बात निकाल दें की क्रिप्टो करेंसी ट्रेडिंग हराम और आराम की कमाई की जगह है..आराम से कभी पैसा नहीं कमाया जा सकता चाहे कोई भी फील्ड हो……इसमें आम कामों से ज्यादा मेहनत है….ज्यादा दिमाग खर्चना पड़ता है….स्टडी ज्यादा है…..सतर्कता ज्यादा है…पेशेंस ज्यादा चाहिए…..ये ज्ञान का भवसागर है…सबसे जल्दी अपडेट होने वाला फील्ड है…एक एक दिन में चीजें बदल जाती हैं…….जितना स्टडी करोगे उतना लगेगा की हमें कुछ नहीं पता….ढंग से सीख जाओगे तो जिंदगी बना देगा….वरना ज्यादा हुशियार यहाँ से नंगे होकर ही घर जाते हैं…और अपनी बेवकूफी की बजाय इस फील्ड को ही कोसते नज़र आते हैं…

दूसरा नियम invest only what you can afford to lose….नया फील्ड है अभी,रोज नए प्रोडक्ट आ रहे हैं…१०० आते हैं तो उनमें से आधे तो स्कैम होते हैं और ४५% कचरा….आपने किसी के कहने से कुछ ले लिया और वो प्रोजेक्ट फेल हुआ तो आपका पैसा गया….शुरुआत थोड़े से ही करें..

वैसे तो सैकड़ों एक्सचेंज हैं पर चूंकि आपको inr से ट्रेड शुरू करना है सो मेरे हिसाब से आप दुनिया के सबसे बड़े एक्सचेंज binance पर ही अपना अकाउंट खोलें…वहाँ आलतू फालतू coins को एंट्री नहीं मिलती और ट्रेड वॉल्यूम भी सबसे ज्यादा होता है.

Binance की साईट पर जाएँ और signup करें.. KYC के बाद आपका अकाउंट रेडी हो जाए तो आपको मैसेज आ जायेगा. अकाउंट सिक्यूरिटी में F2A आप्शन ऑन कर दें. ये गूगल ऑथेंटिकेटर है.इसका ऐप आपको अपने मोबाइल में लेना होगा जो आपको अपने गूगल अकाउंट से लिंक करना होगा…आपकी लॉग इन आई डी और पासवर्ड पता हो तो भी कोई आपकी जगह लॉग इन न कर पाए इसके लिए सेफ्टी है वो. हर ३० सेकण्ड में उसमें कोड्स बदल जाते हैं. हर एक्सचेंज का हर अकाउंट के लिए एक यूनिक QR कोड होता है….उसे गूगल ऑथेंटिकर से स्कैन करते ही उस एक्सचेंज के लिए आपका F2A सेफ्टी चालू हो जायेगी….हर बार लॉग इन करते समय id पासवर्ड के साथ आपसे वो कोड भी माँगा जायेगा. QR कोड का स्क्रीन शॉट लेकर उसे कहीं सुरक्षित जगह सेव कर लें. मोबाइल खो जाने की सूरत में आप नए मोबाइल में वही सेटिंग दोबारा पा सकते हैं उसे स्कैन करके.गूगल भी गूगल ऑथेंटिकेटर चालू करने के लिए आपको एक QR code देता है उसे भी सेव कर लें.

अब साईट या ऐप खोलें. वहाँ wallet पर जाएँ. उसमें ऊपर कई ऑप्शंस नज़र आयेंगे… उसमें p2p पर जाएँ. वहाँ आपको coins नज़र आयेंगे जो आप INR में खरीद सकते हो. p2p में आपको रजिस्टर करना होगा.वहाँ पेमेंट के लिए अपना बैंक अकाउंट या UPI एड्रेस रजिस्टर करना होगा. बस आप तैयार हैं.

मेरे सुझाव में आप शुरुआत केवल btc या usdt से करें क्योंकि इन दोनों से आप जो चाहे वो कॉइन खरीद सकते हैं. वैसे आप usdt से ही अपनी ट्रेडिंग शुरू करें तो बेहतर है. btc से ट्रेडिंग थोड़ी जटिल है (प्रॉफिट समझने के लिहाज से केवल वैसे सेम हैं प्रक्रिया दोनों की) वहाँ आपको buy ऑप्शन नज़र आएगा. उसे क्लिक करते ही लाइन से इंडियन सेलर मिल जायेंगे जो आपके द्वारा सलेक्ट किये कॉइन को ऑनलाइन बेच रहे होंगे. यहाँ थोड़ा ध्यान देने वाली बात है. ट्रेडर के साथ उसके द्वारा किये गए ट्रेड्स की संख्या और सक्सेस रेट लिखे होते हैं जो कि दर्शाते हैं कि सामने वाला कितना प्रोफेशनल है….लोअर रेटिंग वालों से ट्रेड न करें भले ही दो पैसे ज्यादा क्यों न देना पड़े. वो फ्रॉड नहीं हैं नौसिखिए हैं…उन्होने अकाउंट खोल दिया पर करना क्या है यही पता नहीं है…मूलतः वो वहां गालियाँ खाने ही आते हैं… (मैं तो देता हूँ गन्दी गन्दी गालियाँ)….नुक्सान कुछ नहीं है. आधे घंटे के लिए आपको व्यस्त कर देते हैं वो…फालतू में.

जो समझ में आये उसके साथ लिखा होगा की उसकी ट्रेड रेंज क्या है. आपकी रेंज में जो फिट हो उसके साथ ट्रेड शुरू करें. १०-१५ मिनट में ट्रेड पूरा हो जाता है और coins आपके p2p अकाउंट में आ जाते हैं.

धोखेबाजी की ओर से घबराएं नहीं.वहाँ कोई चीट नहीं कर सकता आपको बशर्ते कि आप खुद किसी को मौक़ा न दें तो…वहाँ जैसे ही आप ट्रेड शुरू करते हैं सामने वाले के उतने कॉइन एक्सचेंज के एस्क्रो अकाउंट में लॉक हो जाते हैं…आप पेमेंट करके I have made the payment का बटन दबा दें. एक्सचेंज उस व्यक्ति को मैसेज भेजेगा कि आपको पेमेंट हो चुका है….कॉइन रिलीज करो…वो पेमेंट रिसीव्ड का बटन प्रेस करेगा….एक्सचेंज उसके लॉक्ड कॉइन आपको दे देगी…सिम्पल…

जब आपको पैसे की जरूरत हो तो इसी प्रक्रिया को उल्टा करें और अपने कॉइन बेच दें.

ध्यान रखने योग्य बातें….

अगर खरीद रहे हैं तो पैसा ट्रांसफर करने के बाद I have made the payment का बटन दबाना न भूलें….

अगर बेच रहे हैं तो जब तक पैसा आपके अकाउंट में न आ जाए तब तक पेमेंट रिसीव्ड का बटन न दबाएँ…फालतू में किसी को झिलायें नहीं.वहाँ रेपुटेशन बनानी पड़ती है…रेपुटेड ट्रेडर से सभी ट्रेड करना चाहते हैं….

अब फिर से wallet पर जाएँ. वहाँ p2p सलेक्ट करें. वहां आपको अपने coins नज़र आयेंगे. transfer में जाएँ और वहाँ p2p to spot wallet सलेक्ट करें. सलेक्ट ऑल करके ट्रांसफर मार दें. अब आप वास्तविक ट्रेडिंग के लिए तैयार हैं.

अब trade पेज पर आ जाएँ. वहाँ अगर आपके पास usdt हैं तो ट्रेड में usdt वाला सेक्शन खोलें…वहाँ आपको सैकड़ों coins मिल जायेंगे….

आप चूंकि नए हैं सो एकदम से कोई भी कॉइन ना लें…भले ही आपको वो कितने ही प्रॉफिट में क्यों न दिख रहा हो या कम रेट पर क्यों न दिख रहा हो. उसके लिए स्टडी जरूरी है. coinmarketcap साईट पर जाएँ….वहाँ आपको नज़र आयेंगे टॉप 100 coins…इनमे से भी शुरू के 30 ब्लू चिप होते हैं… कुछ समय उनको स्टडी करें….आपको पैटर्न नज़र आ जाएगा..

coinmarketcal नाम की एक साईट है…वहाँ किस कॉइन में आगामी कितने दिन में कौन सा इवेंट आने वाला है उसकी डिटेल रहती है.उसे स्टडी करें.इसके अलावा नेट पर इस संबंध में ढेरों सूचनाएं हैं। उनका भी अध्ययन करें..

– लेखक : राजेश भट्ट


Disclaimer: this post is only for the educational purpose and should not be taken as an investment advise. Crypto market is a very risky investment so I am noway responsible for any of our profit or loss. The writer of the content does not hold any crypto at the time of writing.