Politics

बंधे हुए हथियार और आजाद हमलावर

एक दूसरे ग्रह का प्राणी विमान से छिटककर दूर जा गिरा और हमारे यहां बीकानेर में आ फंसा। आधी रात का समय था (अब...

सब कुछ है गांधीमय (रिंग, रिंग रिंगा भाग तीन)

मैं आजादी के बाद की बात कर रहा हूं। उससे पहले भले ही गांधीजी का जीवंत करिश्‍मा रहा होगा लेकिन इसके बाद कैश...
rise of right wing and global village

दक्षिणपंथ का उदय और वैश्विक गांव

दक्षिणपंथ का उदय और वैश्विक गांव rise of right wing and global village दुनिया विभिन्‍न तरीकों से बंटी हुई है, हर देश के बनने की अलग...

दो कम्‍युनिस्‍ट दो विचार

कम्‍युनिज्‍म जब अपने स्‍वर्णकाल में था तब भारत के कई साम्‍यवादी विचारधारा वाले नेताओं को रूस बुलाया गया था। उसी खेप में मेरे ताऊजी...

भारतीय सुंदरियों और ओबामा की विजय

बाजार का दबाव किस तरह सत्‍ता को बदल देता है इसका दूसरा उदाहरण मैंने अपनी जिंदगी में देखा है। पहला उदाहरण था भारतीय सुंदरियों...

हमें मंच पर नाचते बाबा ही पसंद हैं…

आज जैसे ही कोई योग, आसन या प्राणायाम की बात करता है तो तुरंत दिमाग में मंच पर नौली क्रिया करते अथवा नाचते रामदेव...

इरोम शर्मिला की भूख के मायने

जनरल स्‍मट जो नया कानून लागू कर रहे हैं उससे हमारे परिवारों की महिलाएं वेश्‍याएं और हम सभी नाजायज औलादें घोषित कर दिए जाएंगे।...
praveen togadia non violance

Theory and practice of non violence

We are proud of legacy of Mahavir and Buddha. Mahavir was not the first, but the last 24th Tirthankar. Buddhas were 28. We have...

लोकतंत्र की लाश पर लोकतंत्र की रक्षा

कल अजीत फाउण्‍डेशन की लाइब्रेरी गया था। वहां जयप्रकाश नारायण की जेल डायरी मिली। किताबों को खांमखां उलटने पलटने की प्रवृत्ति ने यहां भी...

ये विजय दिवस क्‍या ?

आज विजय दिवस है। ये क्‍या है... आओ मंथन करें आजकल हर दिन का दिवस बना दिया है मीडिया वालों ने। कभी जच्‍चा दिवस, कभी...

अधुनातन लेख