Politics

इरोम शर्मिला की भूख के मायने

जनरल स्‍मट जो नया कानून लागू कर रहे हैं उससे हमारे परिवारों की महिलाएं वेश्‍याएं और हम सभी नाजायज औलादें घोषित कर दिए जाएंगे।...

हर व्‍यवस्‍था एक समय तक ही परिहार्य होती है

लगता है एक अर्सा हो गया हिन्‍दी ब्‍लॉगिंग के साथ। मैं पुराने लोगों को देखूं तो लगता है जैसे कल ही यहां आया हूं...
rahul gandhi political genius

न्‍यूनतम अंक लाने वाला जीनियस

न्‍यूनतम अंक लाने वाला जीनियस rahul gandhi political genius एक बार एक परीक्षा में यह नियम था कि तीन सवाल गलत करने पर एक सवाल जितने...

जन‍प्रतिनिधियों से गलत उम्‍मीदें

कई बार व्‍यवस्‍था को दोष देने का जी करता है, लेकिन जब समस्‍या की तह तक जाने का प्रयास करता हूं और एक पत्रकार...

भारतीय सुंदरियों और ओबामा की विजय

बाजार का दबाव किस तरह सत्‍ता को बदल देता है इसका दूसरा उदाहरण मैंने अपनी जिंदगी में देखा है। पहला उदाहरण था भारतीय सुंदरियों...

मैं अन्‍ना पर भरोसा करता हूं, लेकिन…

हालांकि जन लोकपाल बिल आने और उसके जमीनी तौर पर लागू होने में अभी बहुत समय बाकी है, लेकिन आम आदमी के चेहरे पर...
intolrence of intellectuals

बर्दाश्‍त की हद

बर्दाश्‍त की हद Intolerance of liberals महोपाध्‍याय बनवारीलालजी ने आज इतिहास कथन व्‍यक्‍त किया, उन्‍होंने कहा “अब और बर्दाश्‍त नहीं करेंगे” अब आगे की आप कल्‍पना भी...

हमें मंच पर नाचते बाबा ही पसंद हैं…

आज जैसे ही कोई योग, आसन या प्राणायाम की बात करता है तो तुरंत दिमाग में मंच पर नौली क्रिया करते अथवा नाचते रामदेव...

लोकतंत्र की लाश पर लोकतंत्र की रक्षा

कल अजीत फाउण्‍डेशन की लाइब्रेरी गया था। वहां जयप्रकाश नारायण की जेल डायरी मिली। किताबों को खांमखां उलटने पलटने की प्रवृत्ति ने यहां भी...

All we need is feudal system

हमें सामंती या कहें राजशाही तंत्र की ही जरूरत हैकहने को हम 15 अगस्‍त 1947 को ब्रिटिश हुकूमत से आजाद हो गए, और आज...

अधुनातन लेख