स्‍वास्‍थ्‍य/विज्ञान

you have to awaken Dr Skand Shukla

तुम्हें जाग्रत होना है

भीड़-भरी दुनिया में आगे बढ़ने के लिए खलनायक चुनने से अधिक सावधानी नायक चुनने में करनी है। पाश्चात्य , आधुनिक और जाग्रत --- तीन विशेषण...
Darwin and His Theory of Evolution and conflicts 2

हमें जीना है और तुक्के मारने हैं : डार्विन और विकासवाद – 2

आप अपने भाई-बहन से पैदा नहीं होते ; आप और आपके भाई-बहन किन्हीं और से पैदा होते हैं। वे कोई और आपके माँ-बाप हैं,...
Darwin and His Theory of Evolution and conflicts 25

हमें जीना है और तुक्के मारने हैं : डार्विन और विकासवाद – 20

फूलों के ब्याह का मौसम है और आइए इस ऋतु में चार्ल्स डार्विन की एक त्रुटि पकड़ें। डार्विन ने जीव-विकास का अपना सिद्धान्त दिया। उसमें...

दोनों के बीच यह पिंजड़ा नहीं था

रामू बाड़े के इस पार से कमला को निहारता है। वे दोनों इसी कुदरत की सन्तानें हैं : जहाँ एक ने दूसरे को देखने...
responsibility of role model Child health and habits

नायक तो निर्दोष नहीं हैं , लेकिन …

नायक तो निर्दोष नहीं हैं , लेकिन... Responsibility of role models आरम्भ के साथ ही जीवन के सूत्र हमें नायकों के बीच ले जाते हैं।...
Darwin and His Theory of Evolution and conflicts

हमें जीना है और तुक्के मारने हैं : डार्विन और विकासवाद – 17

मनुष्य तक पहुँचने के लिए हमने प्राइमेट-ऑर्डर नामक समूह में प्रवेश लिया था। यहाँ घुसते ही हमें दो समूह मिले थे : गीली नाक...
Food from sunlight Solution to the problem of hunger

…तो हम सूर्य के प्रकाश में नहाते और संसार का हर खाद्यान्न-संकट मिट जाता

...तो हम सूर्य के प्रकाश में नहाते और संसार का हर खाद्यान्न-संकट मिट जाता Problem of hunger 'कोई मिल गया' में नीला एलियन जादू सूर्य...
Darwin and His Theory of Evolution and conflicts 3

हमें जीना है और तुक्के मारने हैं : डार्विन और विकासवाद – 3

“अरे , पर डार्विन ने थ्योरी ही तो दी है न ! थ्योरी बोले तो सिद्धान्त ! सिद्धान्त तो मैं भी दे सकता हूँ...
Darwin and His Theory of Evolution and conflicts

हमें जीना है और तुक्के मारने हैं : डार्विन और विकासवाद – 14

हम मनुष्य हैं और गोरा बनना हमारे लिए उद्योग का रूप ले चुका है। हमें त्वचा का रंग हल्का करना है बिना इस बात...

धनु को लाँघ कर मकर में उसका जाना

आज मकर-संक्रान्ति है। क्रान्ति शब्द में लाँघने का भाव है। किसी ने कुछ लाँघा और क्रान्ति हो गयी। फिर जब यही लाँघना सम्यक् ढंग से...

अधुनातन लेख